गुरुवार, 2 नवंबर 2017

Nayee Khabar

मैं जनता का एजेंट हूं, ढाई साल तक किसी पार्टी में नहीं जाऊंगा - हार्दिक पटेल

नई दिल्ली: हार्दिक पटेल ने कहा कि वह अगले 2.5 साल तक किसी पार्टी में नहीं जाएंगे. उन्होंने कहा कि मैं जनता का एजेंट हूं और किसी पार्टी में नहीं हूं. मुझे जनता ने ही नौकरी पर रखा है.


उन्होंने कहा कि कांग्रेस को उनकी ओर से डायरेक्ट या इनडायरेक्ट समर्थन रहेगा और वह लोगों से कहेंगे कि बीजेपी को वोट न दें. उन्होंने कहा कि जनता के मुद्दे को सत्ता के कान तक पहुंचाना है. उन्होंने कहा, आरक्षण को लेकर बीजेपी मूर्ख बना रही थी.

उन्होंने कहा कि सरदार पटेल महान व्यक्ति थे. उन्होंने कहा कि पटेल देश के नेता थे, वह हर व्यक्ति के नेता थे. यहां बता दें कि कुछ दिन पहले ही पाटीदार आंदोलन के अगुवा हार्दिक पटेल ने सार्वजनिक रूप से कांग्रेस को याद दिलाया है कि अब उनके पास पाटीदारों को आरक्षण देने का रोडमैप बताने के लिए ज़्यादा वक्त नहीं है, और अगर ऐसा नहीं किया गया, तो उनका गुट कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के सूरत दौरे का विरोध करेगा.

हिंसा की घटनाएं तथा पुलिस केस हार्दिक पटेल के अभियान का अहम हिस्सा रहे हैं, और उनका गुट अपने समुदाय से बार-बार कहता है कि BJP द्वारा उठाए जाने वाले मुद्दों से अपना ध्यान न भटकने दें, बल्कि उन अत्याचारों को याद रखें, जो उनके साथ आरक्षण मांगते वक्त किए गए.

===========
नई ख़बर की रिपोर्ट
Read More
Nayee Khabar

जिन्होंने हिमाचल को लूटा है, उनकी विदाई का समय आ गया है- हिमाचल प्रदेश में बोले पीएम मोदी

पीएम नरेंद्र मोदी ने आज हिमाचल प्रदेश में चुनावी रैली करते हुए लोगों को अपने प्रत्याशियों का परिचय दिया. कांगड़ा जिले में फतेहपुर विधानसभा क्षेत्र के रेहान में उन्होंने अपनी आज की पहली रैली की



रेहान (हिमाचल प्रदेश): पीएम नरेंद्र मोदी ने आज हिमाचल प्रदेश में चुनावी रैली करते हुए लोगों को अपने प्रत्याशियों का परिचय दिया और कहा कि 9 तारीख को बटन दबाकर लोग अपनी पसंद की सरकार बनाएंगे. उन्होंने कहा कि जिन्होंने हिमाचल को लूटा है उनकी बिदाई का समय आ गया है. कांगड़ा जिले में फतेहपुर विधानसभा क्षेत्र के रेहान में उन्होंने अपनी आज की पहली रैली की.

पीएम मोदी ने कहा कि जब लोग 9 तारीख को बटन दबाएं पंडित रामसिंह पठानिया के बलिदान को याद रखिएगा. उन्होंने कहा कि जब राज्य में बीजेपी की सरकार बनेगी तब राज्य का भाग्य भी बदलेगा. पीएम ने कहा कि इतनी बड़ी तादाद में लोग आए हैं इसका मतलब लोग हमें आशीर्वाद देने के लिए आए हैं.

पीएम ने कहा कि अभी चुनाव में कांग्रेस पार्टी ने जिसे उम्मीदवार को खड़ा किया है, उस पर भ्रष्टाचार का केस चल रहा है. हमारा देश ऐसा है कि अगर आप ईमानदारी से कुछ करना चाहते हैं और अगर गलती हो जाए तो यह देश माफ करता है. लेकिन अगर काम गलत इरादे से किया गया और जनता की आंख में धूल झोंकने का प्रयास किया गया तो ये देश कभी किसी को माफ नहीं करता है.

पीएम ने कहा कि देव जब भी को भी शुभ काम करते थे राक्षस उसमें विघ्न डाला था और हारते भी थे. उन्होंने कहा कि पुराण काल में भी यह नहीं सुना था कि राक्षस को पैदा करने का काम शासन में बैठे लोगों ने किया हो. उन्होंने कहा कि पांच राक्षसों को पनपने का मौका हिमाचल की वर्तमान सरकार ने दिया है. ये पांच राक्षस इतने ताकतवर हो गए हैं कि शिमला में बैठी सरकार को अपने इशारों पर नचा रहे हैं. सरकार को भी वहीं से रक्षा मिल रही है. पीएम ने कहा कि देवभूमि हिमाचल को दानवों से मुक्त करना है.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी आत्मचिंतन करे कि देश कांग्रेस को चुन- चुनकर क्यों सजा देना चाहता है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हिमाचल प्रदेश में आज दो चुनावी रैली संबोधित कर रहे हैं. पोंटा साहिब के धौला कुंआ में दोपहर दो बजे जनसभा को संबोधित करेंगे.


प्रधानमंत्री 4 नवंबर को मंडी के सुंदरनगर, शाहपुर के रैत और कांगड़ा जिले के पालमपुर में जनसभा को संबोधित करेंगे, जबकि 5 नवंबर को उनका कुल्लू और उना में जनसभा को संबोधित करने का कार्यक्रम है. भाजपा अध्यक्ष अमित शाह 5 नवंबर को उना और कांगड़ा की रैलियों को संबोधित करेंगे. शाह अभी तक यहां 6 चुनावी सभाओं को संबोधित कर चुके हैं. हिमाचल प्रदेश में 9 नवंबर को चुनाव होने हैं.

===========
नई ख़बर की रिपोर्ट
Read More
Nayee Khabar

SC ने भी LG को ही बताया 'दिल्ली का बॉस' अरविंद केजरीवाल को झटका

दिल्ली सरकार के लिए उपराज्यपाल की सहमति जरूरी है. बतौर केंद्रशासित प्रदेश दिल्ली सरकार के अधिकारों की संविधान में व्याख्या की गई है और उसकी सीमाएं तय हैं. उपराज्यपाल के अधिकार भी चिन्हित किए गए हैं.


नई दिल्ली: दिल्ली सरकार बनाम उपराज्यपाल के मामले में दिल्ली सरकार की अपील पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई. सुप्रीम कोर्ट में पांच जजों के संविधान पीठ ने दिल्ली सरकार से अपने प्रारम्भिक विचार बताए. कोर्ट ने कहा कि  प्रावधान के मुताबिक उपराज्यपाल को संविधान ने प्रमुखता दी है. दिल्ली सरकार के लिए उपराज्यपाल की सहमति जरूरी है. बतौर केंद्रशासित प्रदेश दिल्ली सरकार के अधिकारों की संविधान में व्याख्या की गई है और उसकी सीमाएं तय हैं. उपराज्यपाल के अधिकार भी चिन्हित किए गए हैं. कोर्ट ने कहा कि राष्ट्रपति उपराज्यपाल के माध्यम से दिल्ली में प्रशासनिक कार्य करते हैं. दिल्ली सरकार को भी संविधान के दायरे में काम करना होगा क्योंकि भूमि, पुलिस और पब्लिक आर्डर पर उसका नियंत्रण नहीं है. ऐसा लगता है दिल्ली सरकार कानून के दायरे में रहकर काम नहीं करना चाह रही. अगर दिल्ली सरकार और उपराज्यपाल के बीच कोई मतभेद होगा तो मामले को राष्ट्रपति के पास भेजा जाएगा. कोर्ट ने कहा कि जब तक कोर्ट के सामने विशेष तौर पर ये नहीं बताया जाएगा कि उपराज्यपाल कहां अपने क्षेत्राधिकार से बाहर जाकर काम कर रहे हैं तब तक कोर्ट के लिए मुद्दों का परीक्षण करना संभव नहीं.

दिल्ली सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में कहा कि संवैधानिक प्रावधानों को सौहार्दपूर्ण तरीके से बनाया जाना चाहिए. चुनी हुई सरकार की भी गरिमा बनी रहनी चाहिए. क्या उपराज्यपाल जो चाहे वो कर सकते हैं, क्या वो बिना मंत्री के अफसरों से मीटिंग कर सकते हैं. एक के बाद एक कल्याणकारी योजनाओं की फाइलें उपराज्यपाल के पास भेजी गई है लेकिन वो एक साल से ज्यादा से फाइलों को क्लियर नहीं कर रहे हैं. दिल्ली सरकार ने कहा कि मंत्रियों को काम कराने के लिए अफसरों के पैर पडना पड़ता है. सारे प्रस्ताव चीफ सेकेट्री के पास जाते हैं और वो कहते हैं कि उपराज्यपाल से कोई निर्देश नहीं मिले हैं. 


उपराज्यपाल इस तरह कार्यपालिका के आदेश की फाइलों पर बैठे नहीं रह सकते. उन्हें वाजिब वक्त में कारण सहित अपने अधिकार का इस्तेमाल करना चाहिए. दिल्ली सरकार ने कहा कि केंद्र सरकार दिल्ली सरकार के रोजाना कामकाज में दखल दे रही है.



वहीं पीठ में शामिल जस्टिस डीवाई चंद्रचूड ने कहा कि उपराज्यपाल को फाइलों पर कारण सहित जवाब देना चाहिए और ये वाजिब वक्त में होना चाहिए. सुनवाई मंगलवार को होगी.



दिल्ली सरकार की ओर से गोपाल सुब्रमण्यम बहस कर रहे हैं. उन्होंने कहा, हम इस बात से सहमत हैं दिल्ली राज्य नहीं बल्कि केंद्रशासित प्रदेश है. 1991 में एक्ट के जरिए इसे स्पेशल स्टेटस दिया गया. इसके दिल्ली की अपनी चुनी हुई सरकार होगी.  239 AA के तहत उपराज्यपाल को कोई भी फैसला लेने से पहले दिल्ली की सरकार की सहमति लेनी होगी. उन्होंने कहा कि 239 AA से पहले संसद दिल्ली के लिए कानून बनाती थी लेकिन इसके लागू होने के बाद भी अगर केंद्र के पास ये अधिकार रहेगा तो इसका मतलब है कि पहले के कानून की छाया अभी भी बरकरार है.



दिल्ली सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में कहा कि 239AA के तहत दिल्ली को विशेष दर्जा दिया गया है. 239 AA में दर्जा दिया गया है. उसकी व्याख्या करनी चाहिए. दिल्ली सरकार की तरफ से पेश हुए वरिष्ठ वक़ील गोपाल सुब्रमण्यम ने कहा कि 239AA के मुताबिक सरकार का मतलब क्या है? दरअसल ये कहता है कि एक चुनी हुई सरकार जो जनता के लिए जवाबदेह हो. 



239AA के तहत दिल्ली में मुख्यमंत्री, मंत्रियों का समूह और विधानसभा को बनाया गया. गोपाल ने कहा कि दिल्ली की विधायिका भी दूसरे राज्यों की विधायिका के तरह है. 239AA के तहत अगर मंत्रियों के समूह द्वारा लिए गए निर्णय से अगर LG सहमत नहीं होते तो फिर मामले को राष्ट्रपति के पास भेजा जाता है. जिसका मतलब हर बात के लिए LG से अनुमति लेनी होगी. ऐसे में LG के पास पूरा कंट्रोल आ जाता है. जबकि चुनी हुई सरकार की भी जनता के प्रति जवाबदेही है.

===========
नई ख़बर की रिपोर्ट
Read More

सोमवार, 5 जून 2017

Nayee Khabar

नहीं मिली एम्बुलेंस, बाइक पर बेटे की कमर से बांध पति ले गया लाश

पूर्णिया.बिहार के पूर्णिया में अस्पताल में महिला की मौत के बाद एम्बुलेंस नहीं मिलने पर शव को बाइक पर बैठा कर ले जाने का मामला सामने आया है। जब शव ले जाने के लिए एम्बुलेंस नहीं मिली तो महिला के बेटे ने एक ऑटो वाले से बात कि उसने 1500 रुपए की मांग की थी। जब रुपयों की व्यवस्था नहीं हो पाई तो महिला के पति ने बाइक चलाने से पहले बेटे की कमर से पत्नी की लाश को बांधा और फिर खुद पीछे पकड़कर बैठ गया। अस्पताल प्रबंधन ने इस मामले की जांच के लिए एक समिति गठित कर दी है।



मृतक महिला के परिजनों के अनुसार उन्होंने शव ले जाने के लिए एम्बुलेंस के लिए अस्पताल के किसी डॉक्टर से कहा था। उन्होंने किसी अन्य से बात करने कहा। काफी देर तक परेशान होते रहे फिर मजबूरन लाश को 20 किमी दूर घर ले जाने के लिए बाइक का सहारा लिया।

- महिला के पति श्रीनगर गांव निवासी शंकर साह ने बताया कि पत्नी को टीबी, हार्ट और दमा की बीमारी थी। तबीयत खराब होने पर कुछ दिन पहले उसके सदर हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था।

- शुक्रवार की देर रात पत्नी की मौत हो गई। डॉक्टर ने कहा कि शव को लेकर जाओ। नहीं तो और कई मरीजों की तबीयत खराब हो जाएगी।

- जब हमने कहा कि शव ले जाने के लिए गाड़ी की व्यवस्था करा दीजिए, तो इलाज करने वाले डॉक्टर ने कहा कि आगे बात करो।

- परेशान होकर बेटे ने एक ऑटो वाले से बात कि तो उसने 1500 रुपए मांगे। उस समय हमारे पास इतने रुपए नहीं थे। मैंने बेटे से कहा कि बाइक से ही शव को लेकर घर चलों।
सिविल सर्जन ने कहा- मेरे पास नहीं आए थे मरीज के परिजन
- पूर्णिया सदर अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ. एमएम वसीम ने कहा कि अस्पताल में एक मरीज की मौत होने की सूचना मिली थी। बाद में पता चला की उसके परिजन शव को बाइक से लेकर घर चले गए।

- मरीज के परिजन एम्बुलेंस के लिए मेरे पास नहीं आए थे। वैसे बीपीएल परिवारों के लिए गाड़ी की सुविधा मुफ्त में है। जांच के लिए एक टीम गठित कर दिया गया है कि कहां पर कम्युनिकेशन गैप हुआ है। जांच में जो भी दोषी होंगे उनपर कार्रवाई की जाएगी।


नई ख़बर की रिपोर्ट
Read More

शुक्रवार, 28 अक्तूबर 2016

Nayee Khabar

यूपी में सपा, बसपा और बीजेपी को टक्कर देगी राजपाल यादव की ससपा

फिल्म कलाकार के बड़े भाई ने बनाई अपनी पार्टी

लखनऊ। फिल्म अभिनेता राजपाल यादव रील लाइफ से रियल लाइफ में प्रदेश वासियों की समाज सेवा के करने के लिए राजनीती में उतर आये हैं। उनके बड़े भाई श्रीपाल यादव और छोटे भाई राजेश यादव ने अपनी पार्टी सर्व सम्भाव पार्टी (ससपा) की गुरुवार को यूपी प्रेस क्लब में घोषणा की। पार्टी का गठन करते समय राजपाल ने भगवत गीता, पवित्र कुरान, बाइविल, गुरुग्रंथ साहिब, रामायण और भारत के संविधान को अपने सामनेरखकर ईमानदारी से प्रदेश में काम करने का निश्चय किया।

राजपाल यादव ने कहा कि मैं आज आपसे फिल्मी मसले पर नहीं मुखातिब हूं। आज आपसे बातचीत का मुद्दा सामाजिक प्रादेशिक और देशिक है। उन्होंने कहा कि फिल्म समाज का ही प्रतिबिंब है। लेकिन आज जिस मुद्दे पर मैं बात आपसे करने आया हूं वह सीधा साधा समाज से जुड़ा है प्रतिबिंब नहीं है। उन्होंने कहा कि मैंने फिल्मी अभिनेता ही हास्य विधा को अत्यंत गंभीरता से अपनाया इसलिए आपका प्यार मिला।

राजपाल ने कहा कि मैं उसी गंभीरता के साथ समाज सेवा के क्षेत्र में उतर रहा हूं। सही कहूं फिल्में करने की मेरी अभिनय यात्रा बॉलीवुड से लेकर हॉलीवुड तक परवान चढ़ी लेकिन अपने देश प्रदेश और जिले की दशा नहीं बदली जस की तस बनी है। यह बहुत पीड़ा देती है मैं एक संजीदा कलाकार हूं। नुक्कड़ नाटकों से सिल्वर स्क्रीन तक पहुंचा हूं। मुझे या पीड़ा ज्यादा ही परेशान करती है।

सर्व सम्भाव पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीपाल यादव ने कहा कि मुझे लगता है कि समाज के लिए कुछ सार्थक करने का यही वक्त है। सही वक्त राजनीतिक व्यवस्था सिस्टम में प्रवेश कर उसे समाज उन्मुख करने का है। मैं जिस राजनीतिक दल का सपने लेकर आपके सम्मुख आया हूं वह सत्तामुखी नहीं, स्वार्थ मुखी नहीं बल्कि समाजोन्मुखी होगा यह मेरा संकल्प है।

राजपाल के छोटे भाई राजेश यादव ने कहा कि मेरे सपनों का राजनीतिक दल उत्तर प्रदेश में आने वाले विधानसभा चुनाव में आपके समक्ष है। लेकिन मैं यह स्पष्ट कर दूं कि यह पार्टी चुनावी मौसम का मेंढक नहीं है, उन्होंने कहा कि चुनावी मौसम में समाज के लिए सार्थक, सकारात्मक और रचनात्मक सोच के साथ हम राजनीती की शुरुआत कर रहे हैं। हमारी पार्टी सीधे जनता से संवाद करेगी।


राजपाल यादव ने कहा कि मैं किसी पार्टी पर आरोप प्रत्यारोप नहीं कर रहा हूं। सभी राजनीतिक दलों के नेताओं को प्रणाम करता हूं। उन्होंने कहा कि सत्ता में आंदोलन का फैशन चल रहा है। सत्ता हासिल करने के लिए लोग कई पैतरे बदल रहे है। हमारी कोशिश रहेगी कि किसानों को गन्ने के मूल्य की पाई-पाई मिले। सड़कों की मरम्मत हो ताकि गांवों में रहने वाले लोगों को कोई तकलीफ न हो क्योकि मैं भी एक गांव का हूं, गांव के लोगों का दर्द मैंने झेला है।


राजपाल ने कहा कि उत्तर प्रदेश में शहरों का विकास हो रहा है। मेट्रो की पटरियां बिछ रही हैं। कई एक्सप्रेस वे बनाये जा रहे हैं। लेकिन गांवों में लोगों को अभी भी पक्की सड़क नसीब नहीं हुई है। इसलिए हमारी पार्टी सामाजिक मुद्दों को लेकर आगामी विधान सभा चुनाव में यूपी की सभी सीटों पर चुनाव लड़ेगी। बता दें कि राजपाल यादव अपने बड़े भाई की पार्टी में स्टार प्रचारक हैं।

============
नई ख़बर की रिपोर्ट
Read More

शनिवार, 24 सितंबर 2016

Nayee Khabar

तेज बारिश से सड़कों पर भरा पानी, आधी रात भीगा जयपुर

 जयपुर। दिन भर तेज धूप के बाद राजधानी में आधी रात तेज बारिश ने जयपुर को पूरी तरह भिगो दिया। जगह-जगह पानी भर गया। दो घंटे चली तेज बारिश ने सड़कों को नदियां बना दिया। कई जगह सड़कों पर नालों का कचरा भी आ गया।
  
- राजधानी में शुक्रवार को भी तेज धूप की स्थिति बनी हुई थी। दिन भर तेज धूप के बीच शाम को भी ज्यादा राहत नहीं मिली थी।
- अचानक रात करीब एक बजे बूंदाबांदी शुरू हुई और कुछ ही क्षणों में वह तेज बारिश में तब्दील हो गई।
- इस बारिश से करीब 10 घंटे में ही तापमान में कमी आ गई।
- तेज बारिश करीब दो घंटे तक चलती रही।
- बारिश के कारण पूरे जयपुर में पानी-पानी भर गया। सड़कों पर पानी इस कदर बहने लगा कि नदियों जैसा रूप हो गया।
- कई गलियों और कॉलोनियों में तो पानी सड़कों पर अभी तक भरा हुआ है।

- शहर के निचले इलाकों सहित कई पॉश कॉलोनियों तक में पानी अभी भी भरा हुआ है।
- समय पर नालों की सफाई और सीवरेज की अव्यवस्था के चलते इस तरह पानी भर गया है।
- पानी के भरने के कारण सुबह स्कूल जाने वाले बच्चों को भी खासी दिक्कतें उठानी पड़ीं।
- कई बच्चों के ऑटो-टैंपो तक उनके घर के दरवाजे तक नहीं पहुंच सके।
- शहर के राधा विहार, कटेवा नगर, रामनगर, सांगानेर की कई कॉलोनियों के अलावा ब्रह्मपुरी व चार दीवारी के कई मोहल्लों में इस तरह पानी भर गया।

मौसम विभाग के अनुसार राज्य के पांच संभागों में और बारिश होने की संभावना है।
- जयपुर, उदयपुर, कोटा, अजमेर और भरतपुर संभागाें में बारिश होने की संभावना है।
- इनमें सबसे ज्यादा बारिश उदयपुर संभाग में होने की संभावना है। जबकि भरतपुर संभाग में छितराई बारिश होगी।
=============
नई ख़बर की रिपोर्ट
Read More

शुक्रवार, 23 सितंबर 2016

Nayee Khabar

ट्वीटर पर चल पड़ा ट्रेंड, पाक के खिलाफ कुछ होता नहीं तो PM मोदी कर रहे केजरीवाल को टार्गेट

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर भ्रष्टाचार के मामले में पहली FIR दर्ज हो गई है। दिल्ली महिला आयोग में 85 लोगों की नियुक्ति में धांधली के आरोप में एंटी करप्शन ब्रांच ने सीएम केजरीवाल के खिलाफ नामजद FIR दर्ज की है जिसपर केजरीवाल के जवाब के बाद पीएम मोदी के खिलाफ जनता का गुस्सा भड़क उठा है।

अरविन्द केजरीवाल ने प्रेस कांफ्रेंस करते हुए कहा कि 'मेरा कसूर क्या है? पूरी FIR में नहीं बताया कि मेरा क्या रोल है। एक मुख्यमंत्री का नाम डालने से पहले तो 10 बार सोचते होंगे। जांच रिपोर्ट में मेरा नाम नहीं है, लेकिन अपराधियों की सूची में है' केजरीवाल ने इसके लिए सीधा पीएम को ज़िम्मेदार ठहराया और कहा कि 'मुख्यमंत्री का नाम ऐसे तो नहीं आता जाहिर है प्रधानमंत्री के इशारे पर हुई है।'
इस मामले को लेकर पीएम मोदी के खिलाफ ट्वीटर पर हैशटैग #ModiTargetsKejriwal ट्रैंड करने लगा है, जिसमें लोग पीएम मोदी को जमकर कोसते दिख रहे हैं। लोगों का गुस्सा उनके ट्वीट्स में साफतौर पर देखने को मिल रहा है। उनका कहना है कि उरी हमले को लेकर पाकिस्तान के खिलाफ कुछ करने की बजाय पीएम केजरीवाल के पीछे पड़े हैं।

पढ़ें, लोगों के ट्वीट:

@kaushalchd देश के लोगों URI हमला मत भूल जाना, देश के चोकिदार बस दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल की लोकप्रियता से घबरा गया है!
@aapkapunjab  मोदी जी फिर से अरविंद केजरीवाल को टारगेट कर रहे हैं 
@sandey2012 इतनी तेज कार्यवाही दूसरी पार्टियों के ऊपर क्यों नहीं होती ।
@AKForPM2019  कल से मोदी जी पाक को जवाब देनी की नहीं अरविंद केजरीवाल को फंसाने की तैयारी कर रहे थे।
@kaushalchd  तोमर की नक़ली डिग्री तो अभी पेश नहीं कर पाए पर प्रधानमंत्री की नक़ली है पूरे world को पता चल गया अब AK से पंगा लिया है! 
@MediaVsIndia  लास्ट टाइम कब शर्म आई थी नरेंद्र मोदी को? आप को क्यों लगता है आज मोदी को शर्म आएगी?
@AapkaNandan पाकिस्तान सरेआम हमला करता है, मोदी जी एक्शन नहीं लेते,
केजरीवाल भ्रष्टाचार के खिलाफ बोलता है, मोदी FIR करवाते है।
@gaganch123 मोदी जी पंजाब के मंत्री तोता सिंह ने बीज घोटाला किया है उस पर FIR क्यों नहीं हुई अब तक।
@arvindKejriwaI1 हमे पता चल गया हैं जी मेरे पार्टी के सदस्य धीरे धीरे जेल में ही इकट्ठा हो कर जेल में  इलेक्शन लड़ेंगे जी !!
@Priyad_01 मोदी जी देश की जनता ने आप को इस लिए वोट नहीं डाला था कि आप केजरीवाल की पीछे पड़े रहो कोई काम भी करके दिखा दो।
@manjinderdusanj मोदी जी आप ना पहले केजरीवाल का कुछ उखाड़ पाए है ना अब उखाड़ पाओगे।
‏@AapkaNandan केजरीवाल को टारगेट करना आसान है मोदीजी, उसके रास्ते पर चलकर दिखाओ तो जानें।
@khanlassoi49  पाकिस्तान को मुंह तोड़ जवाब देने का दम तो है नहीं, चलो अपने हिन्दुस्तानी भाई को ही मुंह तोड़ जवाब दिया जाए।
@suryakantmish1  मोदीजी को न तो संविधान का ज्ञान है और न ही कानून का।किसी भी तरह केजरीवाल को रास्ते से हटाओ। इसके अलावा कुछ नही आता।
@BandhuSandeep  56 इंच के सीने वाले को 5।6 फुट के बंदे से इतना डर ?
283 सीट वाले PM को 1/4 राज्य के CM से इतना डर ?

============
नई ख़बर की रिपोर्ट
Read More
Nayee Khabar

माया के खिलाफ जो टिकट दे,उस पार्टी से लडूंगी : स्वाति

अम्बेडकरनगर, 20 सितम्बर – बहुजन समाज पार्टी (बसपा) अध्यक्ष मायावती के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करने वाले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष नेता दयाशंकर सिंह की पत्नी स्वाति सिंह ने आज उत्तर प्रदेश की समाजवादी पार्टी (सपा) सरकार पर तंज कसते हुये कहा कि सूबे में अगर रिश्तेदारी करने पर न्याय मिलता है तो वह मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को राखी बांधने को तैयार हैं।




श्रीमती सिंह ने आरोप लगाया कि उनके पति पर अभद्र टिप्पणी करने पर त्वरित कार्रवाई हुई, मगर उनके परिवार को खुलेआम मंच से गाली देने वालों पर सपा सरकार कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। वह बीजेपी से नहीं बल्कि मायावती के खिलाफ उन्हें कोई पार्टी टिकट देगी तो वह उसी पार्टी से चुनाव लड़ेंगी।



उन्होने कहा कि “ अखिलेश ने बुआ (मायावती) के कहने पर मेरे पति को जेल भेजा, मगर मेरी बेटी और मेरे परिवारीजनों को गाली देने वालों पर कोई कार्रवाई नहीं की। अगर अखिलेश यादव रिश्ता जोड़ने वालों के साथ ही न्याय करते है तो वह मुझे समय दे, मै उनको राखी बांधकर उनकी बहन बन जाऊं जिससे मेरे परिवार को न्याय मिल सके।

” श्रीमती सिंह लखनऊ से मऊ जाने के दौरान भाजपा के जिला मंत्री डॉ रजनीश सिंह के आवास पर विश्राम तथा जलपान के लिए रुकी थी। उन्होंने कहा कि वह बसपा सुप्रीमो मायावती के खिलाफ कही से चुनाव लड़ने के लिए तैयार है।

============
नई ख़बर की रिपोर्ट
Read More
Nayee Khabar

दलाल की तरह काम कर रहे अधिकारियों को दौड़ाएगी जनता-बीजेपी MLA संगीत सोम


मेरठ.अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहने वाले बीजेपी एमएलए संगीत सोम ने एक बार फिर यूपी सरकार पर निशाना साधा है। सोम ने कहा, सरकार चुनाव से पहले अधिकारियों के ट्रांसफर कर अपनी चुनावी गोट बिछा रही है। यूपी की सपा सरकार अपने खास चहेते अधिकारियों को तैनाती दे रही है। जिससे उनसे चुनाव के दौरान लाभ उठाया जा सके। जनता सब जानती है समय आने पर देगी जवाब...

- बीजेपी एमएलए संगीत सोम ने nayeekhabar.com से खास बातचीत की।
- उन्‍होंने कहा, कुछ पुलिस अधिकारी दलाल के रूप में काम कर रहे हैं। खासतौर पर कुछ एसओ और इंस्पेक्टर।
- ऐसे अधिकारियों पर जनता की नजर है, यदि ऐसे अधिकारियों ने अपना रवैया नहीं सुधारा तो जनता उन्हेंसड़कों पर दौड़ाएगी।
- यह दुर्भाग्य ही है कि यूपी सरकार तबादले कर उन्हें चुनाव के लिए तैयार कर रही है।
- ऐसे अधिकारी सुधर जाएं जो एजेंट के रूप में काम कर रहे हैं।
- सरकार के इशारे पर लोगों के खिलाफ झूठे मुकदमें दर्ज करने वाले अधिकारी जनता की नजर में हैं।
- ऐसे अधिकारियों को जनता समय आने पर कड़ा जवाब देगी।
निष्पक्ष कराएंगे चुनाव
- संगीत सोम ने कहा कि बीजेपी निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए कटिबद्ध है।
- आचार संहिता लागू होते ही आयोग के सामने वर्तमान में किए जा रहे तबादलों का मामला रखा जाएगा।
- ऐसे अधिकारियों को हटवाया जाएगा जो सपा के इशारे पर चुनाव को प्रभावित कर सकते हैं।
- संगीत सोम ने कहा कि जिस तरह समाजवादी पार्टी के अंदर परिवारवाद चल रहा है उससे उसकी हकीकत जनता के सामने आ गई है।
300 सीट जीत बीजेपी यूपी में लाएगी रामराज- उन्‍हाेंने दावा किया कि आने वाले विधानसभा चुनाव में बीजेपी 300 सीट जीतेगी।
- कहा कि बीजेपी ही यूपी में जीत दर्ज कर रामराज की स्थापना करेगी।
- वर्तमान में प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति बेहद खराब है, लोग अपने घर तक में सुरक्षित नहीं है।
- अपराध और भ्रष्टाचार लगातार बढ़ रहे हैं, पीड़ितों के केस दर्ज नहीं हो रहे हैं।
- बीजेपी सत्ता में आकर जनता को विकास और न्याय देगी। बीजेपी विकास के मुद्दों के साथ चुनाव में उतरेगी।



============
नई ख़बर की रिपोर्ट
Read More
Nayee Khabar

उरी में शहीद गणेश शंकर की शहादत का बीजेपी सांसद ने किया अपमान, पिटते पिटते बचे

संतकबीर नगर : उरी आर्मी कैम्प पर हुए आतंकी हमले में शहीद हुए 18 जवानो में 4 जवान उत्तर प्रदेश के भी शामिल है। जिसमे एक शहीद गणेश शंकर यादव का नाम है जो संतकबीर नगर के रहने वाले थे। आज जब सेना के जवान उनके पार्थिव शरीर लेकर शहीद के पैत्रिकी गांव पहुंचे तो वहां हज़ारों की तादात में गांव वाले मौजूद थे सभी के चहेरे उदास थे और आँखे नाम थी। इस क्रम में वहां संतकबीर नगर के सांसद शरद त्रिपाठी भी शहीद की अंतिम यात्रा में पहुंचे लेकिन सांसद शरद त्रिपाठी ने वहां एक ऐसी हरकत कर डाली जिसकी लोग घोर निंदा कर रहे थे और हालात ऐसे हो गए की सांसद शरद त्रिपाठी को किसी तरह जान बचा कर भागना पड़ा। गली छाप नेता से लेकर राष्ट्रीय स्तर तक के नेता हर जगह हर मुक़ाम पर चाहते हैं की पूरा अट्रैक्शन उन्ही पर हो लेकिन कभी कभी ऐसी गलती कर बैठते हैं की उनका पूरा राजनीतिक भविष्य ही खतरे में पड़ जाता है।




दोपहर करीब 1 बजे शहीद का प्र्रतिव शरीर उनके गांव पहुंच करीब 3 बजे शहीद को पुरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम सलामी दी गयी शहीद गणेश शंकर यादव के 7 साल के बेटे ने पिता की चिता को अग्नि दी पूरा माहौल ग़मगीन था लेकिन इसी बीच बीजेपी सांसद शरद त्रिपाठी ने अपने समर्थको को शहीद के लिए अंगोछा बिछवाकर चंदा मांगने का फरमान जारी कर दिया और सांसद साहब भी चंदा इकठ्ठा करने में लग गए। ये बात शहीद गणेश शंकर यादव के परिजनों के साथ साथ गांव वालों को भी इतनी नागवार गुज़री की की लोगो ने बीजेपी सांसद शरद त्रिपाठी को खूब लताड़ लगाई। हालात ये हो गए थे पुलिस ने किसी तरह बीजेपी सांसद शरद त्रिपाठी को वहां से हटाया सूत्र बताते हैं की अगर बीजेपी सांसद शरद त्रिपाठी वहां से भाग न लेते तो गांव वाले खूब पीटते। गांव वालों का कहना है भाजपा सांसद शरद त्रिपाठी ने शहीद की शहादत का अपमान किया।
शहीद के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए उत्तर प्रदेश के सीएम अखिलेश यादव ने अपने २ मंत्रियों क्षेत्रीय विधायकों के साथ ज़िलाधिकारी को भी भेजा और शहीद परिवार को 20 लाख की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की.. मुख्यमंत्री अखिलेश का सन्देश शहीद परिवार तक पहुँचाया और कहा की सरकार शहीद के बच्चों की पढाई के साथ साथ परिवार की हर संभव मदद करेगी। हमें शहीद गणेश शंकर यादव की शहादत पर गर्व है। हिन्दुस्तान के इतिहास में शायद ये पहला मौका होगा जब कोई सत्तारूढ़ पार्टी का सांसद शहीद के घर जाकर शहीद के परिवार वालों को सांत्वना देने के बजाय शहीद के परिवार को शर्मसार करते हुए अंगोछा बिछाकर लोगों से चंदा मंगवाने लगा। इससे ज्यादा शर्म की बात और क्या हो सकती है, जहां देश के जवान भारत मां की हिफाजत में अपनी जान कुर्बान कर रहे हैं वहीं इस तरह के लोग इनकी शहादत की आड़ में अपनी रोटी सेक रहे हैं
============
नई ख़बर की रिपोर्ट
Read More
Nayee Khabar

राज्य सरकार कर रही है बढ़िया काम- शहाबुद्दीन

जम्मू कश्मीर के उरी आतंकी हमला मामले में भारत सरकार को कड़ा स्टेप लेना चाहिए. ये कहना है 13 वर्षो बाद जेल से छूटकर बाहर आये सीवान के पूर्व राजद सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन का.

सीवान के जिला राजद कार्यालय व्हाइट हाउस में मंगलवार को कार्यकर्त्ता सम्मलेन में शिरकत करने आये मोहम्मद शहाबुद्दीन ने करीब तीन घंटे तक राजद कार्यकर्त्ताओं के साथ बैठक करने के बाद मीडिया से बातचीत की.
शहाबुद्दीन ने कहा कि वे भाजपा की तरह पकिस्तान पर सीधे हमला किये जाने की बात नहीं करेंगे, यह एक राजनयिक मामला है लेकिन इस मामले में केंद्र सरकार को कड़ा कदम उठाना चाहिए. उन्होंने कहा कि बैठक में उरी में शहीद सैनिकों के लिए दो मिनट का मौन रखा गया.
वहीं इस मौके पर शहाबुद्दीन ने राज्य सरकार की जमकर तारीफ भी की. उन्होंने कहा कि सीवान शहर में घूमने के बाद उन्हें पता चल रहा है कि राज्य सरकार काफी अच्छा काम कर रही है.
शहर की सड़कों की स्थिति पहले से काफी बेहतर नजर आ रही है. पत्रकारों के सवाल पर उन्होंने कहा कि खामियां ढूंढने पर अमेरिका में भी मिल जाएगी लेकिन बिहार सरकार अच्छा काम कर रही है और उन्हें उम्मीद है कि आगे भी अच्छा करेगी.


============
नई ख़बर की रिपोर्ट
Read More
Nayee Khabar

नोकिया की बाजार में वापसी, लंबे इंतजार के बाद 2495 कीमत के साथ फोन किया लॉन्च

नई दिल्लीः माइक्रोसॉफ्ट ने बाजार में लंबे ब्रेक के बाद नोकिया नाम के स्मार्टफोन के साथ वापसी की है. कंपनी के इस नए स्मार्टफोन का नाम नोकिया 216 है. ये स्मार्टफोन उनके लिए बेहतर विकल्प साबित हो सकता है जो टेक फ्रेंडली तो नहीं हा लेकिन इंटरनेट और जरुरी एप का इस्तेमाल करते हैं. इसकी कीमत 2495 रुपए रखी है.भारतीय बाजार में यह 24 अक्टूबर से उपलब्ध होगा.
नोकिया 216 के फीचर्स की बात करें तो इसमें 2.4 इंच की QVGA डिस्प्ले दी गई है, जिसकी रिजॉल्यूशन 240×320 पिक्सल है. इस फोन में 32 जीबी तक का मैमोरी कार्ड इस्तेमाल किया जा सकता है. फोन में 0.3 मेगापिक्सल का वीजीए कैमरा दिया गया है.
इसमें इंटरनेट का इस्तेमाल भी किया जा सकेगा और इस फोन में 2000 कॉन्टैक्ट सेव किए जा सकते हैं. इस हैंडसेट को पावर देने के लिए 1020mAh की बैटरी है. कंपनी का दावा है कि ये बैटरी 18 घंटे तक का टॉक टाइम दे गया है.
इसके अलावा फोन में इसमें एफएम रेडियो, mp, वीडियो प्लेयर है जैसे ऑप्शन भी उपलब्ध हैं. कंपनी ने यह फोन काले, ग्रे और नीले रंग में बाजार में उतारा है.

============
नई ख़बर की रिपोर्ट
Read More
Nayee Khabar

दलाल छाेड़ने वाले हैं पार्टी, 2017 में मुख्यमंत्री अखिलेश ही होंगे- शिवपाल

इटावा : समाजवादी पार्टी में जारी सियासी उठापटक के बीच पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष शिवापाल सिंह यादव ने बड़ा बयान दिया है। कहा कि परिवार में काेर्ई मतभेद नहीं है अाैर 2017 में भी अखिलेश ही मुख्यमंत्री बनेंगे। उन्हाेंने अागामी विधानसभा चुनाव भी अखिलेश की अगुवार्ई में ही लड़ने की बात कही है।

शिवपाल यहां इटावा में जिला सहकारी बैंक डायरेक्टर पद का नामांकन करने पहुंचे थे। उन्हाेंने यहां पहुंचकर खुलकर मीडिया से बातचीत की। कहा, पार्टी अाैर परिवार में सबकुछ सही है। आगामी विधानसभा चुनाव में पार्टी पूर्ण बहुमत से विजयी हाेगी। शिवपाल ने अखिलेश यादव के समर्थन में पार्टी छाेड़ने वालाें काे भी खूब खरी-खाेटी सुनार्ई। 

कहा, परिवार में अगर काेर्ई बड़ा डांटता है ताे उसका गलत अर्थ नहीं निकालना चाहिए, बल्कि उसमें सुधार लाने की काेशिश करनी चाहिए। उन्हाेंने अखिलेश यादव के समर्थन में पार्टी छाेड़ने वालाें काे दलाल बताया। 

कहा, दलाली का माैका नहीं मिल रहा है ताे इसी बहाने वह पार्टी छाेड़ रहे हैं। शिवपाल इतने पर ही नहीं रूके। बाेले, पार्टी छाेड़कर अगर काेर्ई जा रहा है ताे इससे खुद उनपर असर पड़ेगा पार्टी पर नहीं।  

============
नई ख़बर की रिपोर्ट
Read More

गुरुवार, 22 सितंबर 2016

Nayee Khabar

भाजपा राष्ट्रीय परिषद की बैठक में भी छाया रहेगा उड़ी हमला

भाजपा के राष्ट्रीय सचिव पी मुरलीधरन ने बुधवार को यहां बताया कि राष्ट्रीय परिषद की बैठक में उड़ी हमले को लेकर चर्चा होगी।


कोझिकोड, आइएएनएस। केरल के कोझिकोड में 23 से 25 सितंबर तक भाजपा की राष्ट्रीय परिषद की बैठक होनी है। दीनदयाल उपाध्याय को समर्पित यह बैठक ऐसे समय हो रही है, जब केंद्र सरकार उड़ी आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान को हर तरह से बेनकाब करने में जुटी है। इसलिए इसमें उड़ी हमले के छाये रहने की संभावना है। बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उनके मंत्री और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह सहित तीन हजार प्रतिनिधि भाग लेंगे।

भाजपा के राष्ट्रीय सचिव पी मुरलीधरन ने बुधवार को यहां बताया कि राष्ट्रीय परिषद की बैठक में उड़ी हमले को लेकर चर्चा होगी। उन्होंने कहा, 'भाजपा ने राष्ट्रीय परिषद की बैठक के लिए केरल के इस शहर को इसलिए चुना है, क्योंकि 1967 में कालीकट (कोझिकोड का पूर्ववर्ती नाम कालीकट ही था) में हुई भारतीय जनसंघ की बैठक में दीनदयाल उपाध्याय को अध्यक्ष चुना गया था। उस समय बैठक में शामिल रहे लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, वीके मल्होत्रा, ओ राजगोपाल जैसे नेताओं को इस बैठक में सम्मानित किया जाएगा।

मुरलीधरन ने बताया कि प्रधानमंत्री 24 सितंबर को यहां पहुंचेंगे। वह एक रैली को संबोधित करेंगे। राष्ट्रीय परिषद की बैठक में उत्तर प्रदेश, पंजाब, गोवा और गुजरात में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों की रणनीति पर भी चर्चा होगी।


============
नई ख़बर की रिपोर्ट
Read More
Nayee Khabar

राजस्थान में बाल संरक्षण पर छह माह का पाठ्यक्रम शुरू

अनेक बार बच्चे ढाबों पर बर्तन धोने, खाना परोसने, भीख मांगने व घर पर नौकर का काम कराते हुए मिलते हैं।


राजस्थान के सामाजिक न्याय व अधिकारिता मंत्री डॉ अरुण चतुर्वेदी ने बुधवार को यहां कहा कि बच्चों के अधिकारों के संरक्षण के लिए समाज को संवदेशील होना होगा। बाल संरक्षण पर सर्टिफिकेट कोर्स के शुभारंभ के मौके पर चतुर्वेदी ने कहा कि पर्याप्त कानून होने के बावजूद जागरूकता व संवेदनशीलता के अभाव में बच्चों के अधिकारों का हनन हो रहा है।


अत: बच्चों के अधिकारों के संरक्षण व उनके समूचित शारीरिक, मानसिक विकास के साथ-साथ उन्हें श्रेष्ठ नागरिक बनाने के लिए समाज के सभी वर्गों को संवेदनशील होकर कार्य करना होगा।  डॉ चतुर्वेदी बुधवार को सरदार पटेल पुलिस, सुरक्षा व आपराधिक न्याय विश्वविद्यालय, जोधपुर के बाल संरक्षण केंद्र, जयपुर व यूनिसेफ के सहयोग से संचालित किए जाने वाले ‘बाल संरक्षण पर सर्टिफिकेट कोर्स’ के शुभारंभ सत्र को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि राज्य में बाल अधिकारों के संरक्षण के लिए बाल कल्याण समिति, किशोर न्याय बोर्ड एवं बाल सुधार आयोग बने हुए हैं। लेकिन कानूनों की जानकारी व जन जागरूकता के अभाव में उनके पास बच्चों के शोषण के मामले कम आते हैं। अनेक बार बच्चे ढाबों पर बर्तन धोने, खाना परोसने, भीख मांगने व घर पर नौकर का काम कराते हुए मिलते हैं। इसके बावजूद आम जन बालकों के अधिकारों के उल्लंघन के मामलों की अनदेखी करते हुए नजर आते हैं।

============
नई ख़बर की रिपोर्ट
Read More
Nayee Khabar

BJP ने पत्रकारों से पूछा- अगर आप रक्षा मंत्री होते तो क्या घर नहीं आते?

रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर के बार बार गोवा आने की आलोचना करने वाले पत्रकारों पर आज भाजपा ने पलटवार करते हुए पूछा, ‘‘कि अगर आप रक्षा मंत्री होते तो क्या घर नहीं आते?’


रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर के बार बार गोवा आने पर पत्रकारों की आलोचना  पर गोवा प्रदेश बीजेपी ने पत्रकारों पर ही पलटवार करते हुए सवाल पूछा है कि ‘अगर आप रक्षा मंत्री होते तो क्या घर नहीं आते?’ भाजपा की गोवा इकाई के महासचिव सदानंद तनावाडे ने आज यहां एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान पत्रकारों से पूछा, ‘‘अगर आपको रक्षा मंत्री बना दिया जाता तो क्या आप घर नहीं आते? 

क्या आप दिल्ली में ही रह जाते?’ वह पर्रिकर के लगातार गोवा दौरे पर हुए एक सवाल का जवाब दे रहे थे। गोवा कांग्रेस ने हाल ही में पर्रिकर पर ‘‘अंशकालिक’’ रक्षा मंत्री होने का आरोप लगाया था और कहा था कि वह राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े मुद्दे की तुलना में तटीय राज्य से जुड़े मुद्दों में ज्यादा दिलचस्पी रखते हैं।


Read More
Nayee Khabar

DCW मामले में महिला मोर्चा का बीजेपी के खिलाफ हल्ला बोल

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल के खिलाफ दिल्ली बीजेपी महिला मोर्चा ने विरोध प्रदर्शन किया. दिल्ली महिला आयोग के दफ्तर पहुंची बीजेपी महिला मोर्चा की कार्यकर्ताओं ने जमकर नारेबाजी की और अपना विरोध जताया. ये महिलाएं स्वाति मालीवाल को दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष के पद से बर्खास्त करने की मांग कर रही थीं.


सुबह आईटीओ पर इकट्ठा हुई महिलाओं ने हाथों में नारे लगी तख्ती लिएमहिला आयोग दफ्तर के अंदर घुसने की कोशिश की, जिसे पुलिस ने नाकाम कर दिया. महिलाओं की मांग थी कि एफआईआर होने के बाद स्वाति मालीवाल को उनके पद से तुरंत हटाया जाना चाहिए, साथ ही गलत तरीके से महिला आयोग में जो नियुक्तियां की गईं हैं उन्हें भी रद्द किया जाये.

बीजेपी महिला मोर्चा की अध्यक्ष कमलजीत सेहरावत के मुताबिक स्वाति मालीवाल ने अपने पद का दुरूपयोग किया है. मालीवाल ने न सिर्फ आप के नेताओं के इशारे पर काम किया बल्कि आप के जिन नेताओं पर महिलाओं को प्रताड़ित करने के आरोप थे उनके खिलाफ भी कार्रवाई नहीं की.

सेहरावत ने आरोप लगाया कि आप के कार्यकर्ताओं की नियुक्ति महिला आयोग में की गई, जिसमे किसी सरकारी प्रक्रिया का पालन नहीं किया गया.


============
नई ख़बर की रिपोर्ट
Read More
Nayee Khabar

केजरीवाल को हर वक्त नजर आते हैं पीएम, हो गया मोदी फोबिया

दिल्ली महिला आयोग के भर्ती घोटाले में अपना नाम शामिल किए जाने को लेकर सीएम अरविंद केजरीवाल ने मोदी को घेरा तो बीजेपी ने भी पलटवार करने में देर नहीं की. दिल्ली बीजेपी ने भी सीएम की प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद तुरंत प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई और अरविंद केजरीवाल को खूब खरी-खोटी सुनाई.


दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष सतीश उपाध्याय ने अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा कि केजरीवाल को दरअसल मोदी फोबिया हो गया है. उन्हें हर वक्त हर जगह पीएम ही नजर आते हैं. कोई भी बात हो जाए, तुरंत पीएम पर आरोप लगाना शुरू कर देते हैं. जबकि पीएम के पास और बहुत काम है, उनका दिल्ली या दिल्ली की सरकार के कामकाज से कोई लेना देना नहीं है. लेकिन सीएम केजरीवाल ने अपनी एक आदत बना ली है, जिसमें वो आरोप लगाने के लिए पीएम से नीचे किसी को चुनने के लिए तैयार नहीं है.

उपाध्याय ने आरोप लगाया कि दिल्ली में अपनी सरकार के अधीन आने वाले कामों की जिम्मेदारी लेने से सीएम भागते हैं, लेकिन अगर दिल्ली महिला आयोग में कुछ गलत हुआ है, तो इसमें उनकी जि‍म्मेदारी पूरी-पूरी बनती है. उन्होंने पूछा कि महिला आयोग में नियमों को ताक पर रखकर नियु्क्तियां की गईं, क्या केजरीवाल जी इस बात से इनकार कर सकते हैं कि उन्हें इस गड़बड़ी की जानकारी नहीं थी.

बीजेपी के मुताबिक, केजरीवाल के खिलाफ जो एफआईआऱ की गई है, वो महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष बरखा सिंह की शिकायत पर की गई है. जिसमें उन्होंने केजरीवाल का नाम भी लिखा था. इसलिए बीजेपी या पीएम पर इसका आरोप लगाना बेबुनियाद है.

बीजेपी के सांसद रमेश बिधूड़ी ने तो केजरीवाल को झूठा मुख्यमंत्री कहा. विधूड़ी ने आरोप लगाया कि केजरीवाल गंद फैलाते हैं और उन्हें दिल्ली की कोई फिक्र नहीं है. सिर्फ झूठ बोलना और अपनी राजनीति‍ करना ही उनका काम है. बिधूड़ी ने कहा कि अपने बच्चों की कसम खाकर भी उन्होंने कांग्रेस के साथ सरकार बना ली, ऐसे आदमी की बातों का क्या भरोसा.

दिल्ली बीजेपी के महामंत्री आशीष सूद ने भी केजरीवाल को कटघरे में खड़ा किया. उन्होंने कहा कि केजरीवाल अपनी नाकामी छुपाने के लिए पीएम पर आरोप का सहारा लेते हैं, लेकिन अब टीम केजरीवाल एक्सपोज हो चुकी है.


============
नई ख़बर की रिपोर्ट

Read More
Nayee Khabar

जम्मू-कश्मीर में BJP-PDP गठबंधन असफल- दिग्विजय सिंह

दिग्विजय सिंह ने कहा कि पीडीपी संविधान की धारा 370 और अन्य मुद्दों पर भाजपा के घोषित एजेंडे के खिलाफ है।
हैदराबाद । कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने जम्मू-कश्मीर में भाजपा और पीडीपी गठबंधन को पूरी तरह असफल बताया है। उनका कहना है कि दोनों सहयोगी एक-दूसरे पर भरोसा नहीं करते। वे सिर्फ शक्ति की चाहत में सत्ता में हैं।

दिग्विजय सिंह ने कहा कि पीडीपी संविधान की धारा 370 और अन्य मुद्दों पर भाजपा के घोषित एजेंडे के खिलाफ है। राज्य में राष्ट्रपति शासन के सवाल पर उन्होंने कहा, 'हम राष्ट्रपति शासन की घोषणा के पक्ष में नहीं हैं। हमने हाल में अरुणाचल प्रदेश और उत्तराखंड में इसका दुरुपयोग होते देखा है।' कांग्रेस नेता ने पाकिस्तान से निपटने के मोर्चे पर भी भाजपा को घेरा।

उन्होंने कहा, 'मोदी सरकार ने पाकिस्तान को लेकर अपनी नीति में यू-टर्न ले लिया है। केंद्र सरकार जिस तरह से पाकिस्तान और कश्मीर समस्या से निपट रही है, हम उसका अनुमोदन नहीं करते। ये विवादास्पद मुद्दे हैं। मोदी और भाजपा ने चुनावी वादे से एकदम विपरीत कदम उठाया है।'

=============
नई ख़बर की रिपोर्ट
Read More
Nayee Khabar

खाते में 15 लाख कब आएंगे ?- केंद्रीय सूचना आयोग ने पीएमओ से पूछा

नई दिल्ली:  केंद्रीय सूचना आयोग ने उस आरटीआई आवेदन पर प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) को जवाब देने का निर्देश दिया है, जिसमें सवाल किया गया है कि खाते में 15 लाख रूपए कब आएंगे, जिसका वादा 2014 के आम चुनाव के दौरान नरेंद्र मोदी ने किया था.

दरअसल राजस्थान के झालावाड़ जिल में कन्हैया लाल नामक एक व्यक्ति के आवेदन के सिलसिले में यह निर्देश दिया गया है. लाल ने पीएमओ में एक आरटीआई आवेदन दाखिल कर पूछा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सौंपे गए उसके ज्ञापन की क्या स्थिति है.
मुख्य सूचना आयुक्त राधा कृष्ण माथुर के मुताबिक, पीएमओ को भेजे ज्ञापन में जिक्र किए गए विभिन्न ब्यौरों में लाल ने शीर्ष कार्यालय से यह कहा था कि ‘‘चुनाव के समय, घोषणा की गई थी कि काला धन वापस भारत लाया जाएगा और हर गरीब के खाते में 15 लाख रूपए जमा किए जाएगें.’’
शिकायकर्ता जानना चाहता है कि उसका क्या हुआ.’’ लाल की याचिका का जिक्र करते हुए माथुर ने कहा, ‘‘शिकायकर्ता माननीय प्रधानमंत्री से जवाब चाहता है कि चुनाव के दौरान घोषणा की गयी थी कि देश से भ्रष्टाचार को हटाया जाएगा लेकिन यह ‘90 प्रतिशत तक बढ़ गया है’. इतना ही नहीं वह जानना चाहता है कि देश से भ्रष्टाचार को हटाने के लिए नया कानून कब बनाया जाएगा.’’
लाल ने अपनी याचिका में यह भी जिक्र किया है कि सरकार की तरफ से घोषित योजनाओं का लाभ सिर्फ धनी और पूंजीपति तक ही सीमित है और यह गरीबों के लिए नहीं है. लाल ने यह सवाल भी किया है कि कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में वरिष्ठ नागरिकों को रेल यात्रा में टिकटों पर दी गयी 40 प्रतिशत रियायत क्या इस सरकार की तरफ से वापस ली जा रही है. माथुर ने कहा कि पीएमओ के सीपीआईओ का जवाब रिकार्ड में नहीं है.

============
नई ख़बर की रिपोर्ट
Read More