गुरुवार, 28 अप्रैल 2016

Nayee Khabar

हत्यारोपी अधिकारी पुलिस गिरफ्त से बाहर, जिला विकलांग अफसर रंजीत सोनकर की मौत का मामला

शाहजहाँपुर। जिला विकलांग अधिकारी रंजीत सोनकर की 21 अप्रैल को हुई मौत के मामले में नया मोड़ आया है। इस मामले में उसकी पत्नी जिला समाज कल्याण अधिकारी अर्चना सोनकर के खिलाफ जहर देकर हत्या करने का केस दर्ज किया गया है। जब से केस दर्ज किया गया तब से अर्चना सोनकर फरार हैं। दोनों की शादी दो महीने पहले हुई थी। सुहागरात के दो-तीन दिन बाद से ही दोनों में अनबन शुरू हो गई थी। अर्चना की पति से दूरियां बढ़ गईं थीं। इसी कारण वह अलग होकर सरकारी आवास में रहने लगीं। 



बताते हैं कि अर्चना सोनकर की यह दूसरी शादी थी। रंजीत ने अपनी शिकायत में लिखा था कि उनकी पत्नी में स्त्री का कोई गुण ही नहीं है। ऐसी चर्चा है कि रंजीत को सुहागरात को ही इस बात का पता चला इसलिए रंजीत चाहते थे कि अर्चना का मेडिकल करवाया जाए। रंजीत के परिजन कहते हैं कि इसी शिकायत के कारण उसकी हत्या की गई। पुलिस ने अर्चना, उनके भाइयों और नौकरों के खिलाफ धारा 302 और 228 के तहत केस दर्ज किया हुआ है।

=============
नई ख़बर की रिपोर्ट