रविवार, 5 जून 2016

Nayee Khabar

''एकनाथ खडसे का इस्तीफा: मोदी-शाह के नेतृत्व में बीजेपी को पहला झटका

नई दिल्ली: भ्रष्टाचार के कई आरोपों के बाद महाराष्ट्र के राजस्व मंत्री एकनाथ खडसे का इस्तीफा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की जोड़ी के लिए पहला झटका है। इन लोगों ने भ्रष्टाचार को बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं करने का प्रण लेकर बीजेपी की कमान संभाली थी। 

खडसे ने जमीन सौदे में गड़बड़ियों समेत भ्रष्टाचार के कई आरोपों को लेकर उठ रहे सवालों के बीच शनिवार को इस्तीफा दे दिया है। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने उनका इस्तीफा मंजूर कर राज्यपाल के भेज दिया है। 

खडसे के पास विकल्प नहीं बचे थे। बीजेपी के केंद्रीय नेतृत्व ने उन्हें साफ और कड़ा संदेश दिया था, जिसके बाद उत्तरी महाराष्ट्र के 64 साल के कद्दावर नेता शनिवार सुबह मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के आधिकारिक निवास पहुंचे और अपने इस्तीफे की पेशकश की। खडसे की किस्मत का फैसला 2 दिन पहले ही हो गया था जब फडणवीस ने दिल्ली में मोदी और शाह को उनके खिलाफ लगे आरोपों की जानकारी दी थी। 

बीजेपी नेतृत्व वाली राज्य की पहली सरकार को शर्मसार करने वाले ये आरोप ना केवल कांग्रेस, एनसीपी और आम आदमी पार्टी ने लगाए, बल्कि इन्हें लेकर सहयोगी शिवसेना ने भी खडसे को बर्खास्त करने की मांग की थी। राजस्व और कृषि जैसे महत्वपूर्ण विभाग संभाल रहे खडसे को कैबिनेट में 'नंबर 2' समझा जाता था। वह पुणे में जमीन सौदे में गड़बड़ियों, कराची स्थित फरार गैंगस्टर दाऊद इब्राहिम के घर से फोन कॉल आने सहित कई आरोपों को लेकर आलोचनाओं का सामना कर रहे हैं। 

उनपर आरोप है कि उन्होंने पुणे में अपनी पत्नी और दामाद के नाम पर 3.75 करोड़ रुपये की मामूली कीमत पर महाराष्ट्र औद्योगिक विकास निगम की 3 एकड़ जमीन उसके असली मालिक से खरीदी थी। बताया जाता है कि जमीन की बाजार कीमत 40 करोड़ रुपये है। हालांकि, खडसे ने आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि वह 'मीडिया ट्रायल' का शिकार हुए हैं।

=================
नई खबर - महेन्द्र भाई पटेल