मंगलवार, 7 जून 2016

Nayee Khabar

दिल्ली होगी भारत की पहली सोलर सिटी- केजरीवाल

दिल्ली- नरेद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद देश में अच्छे दिन चाहे अभी दूर हो लेकिन दिल्ली वालो के अच्छे दिन आने शुरू हो गए है. दिल्ली के मुख्यमंत्री के रूप में केजरीवाल का बेहतरीन काम जारी है. अनेक जनहित की योजनायें चालु करने के बाद केजरीवाल सरकार ने एक और एतिहासिक फैसला लिया है. इस फैसले से दिल्ली में लगने वाले बिजली के कट से दिल्ली वालो को निजात मिलेगी वहीं बिजली की होने वाली किल्लत एक पुराने ज़माने की बात हो जाएगी.

सोमवार को दिल्ली सरकार की कैबिनेट ने सोलर पालिसी को मंजूरी दे दी. यह पालिसी दिल्ली में तत्काल प्रभाव से लागू हो गयी है. इस पालिसी के अनुसार सभी सरकारी और सार्वजिनक स्थानों की छतो पर सोलर पैनल लगाना अनिवार्य कर दिया गया है.

इसके अलावा कोई भी व्यक्ति अपने घर की छत पर सोलर पैनल लगवा सकता है वो भी बिलकुल निशुल्क. इसके लिए सरकार ने दो प्रावधान दिए है. पहला अगर कोई व्यक्ति अपने इस्तेमाल के लिए छत पर सोलर पैनल लगता है तो सरकार इसके लिए सब्सिडी देकर सस्ते सोलर पैनल मुहैया कराएगी और दूसरा सरकार ने कुछ कंपनियों को अधिकृत किया है जो दिल्ली में लोगो की घरो पर सोलर पैनल लगाएगी और इससे पैदा होने वाली बिजली को बेचने का अधिकार उनको होगा

ये कंपनी जिस किसी के घर की छत पर ये सोलर पैनल लगाएगी वो बिलकुल निशुल्क होगा और उस घर को सस्ते दामो पर बिजली मुहैया करायी जायेगी. उस घर को सस्ती बिजली देने की जिम्मेदारी भी उस कंपनी की होगी .
दिल्ली के उर्जा मंत्री डॉक्टर सतेन्द्र जैन ने मीडिया को बताया की अभी तक ज्यादातर लोग अपनी छत पर इसलिए सोलर पैनल नही लगते थे क्योकि इससे घर की छत इस्तेमाल करने लायक नही बचती थी. सोलर पैनल छत की ज्यादा जगह को घेर लेता था. सतेन्द्र जैन ने कहा की हमने जो पालिसी दिल्ली में लागू की है उसके अनुसार कंपनी अगर किसी घर की छत सोलर पैनल लगाने के लिए लेती है तो उस कंपनी को सोलर पैनल छत से दो मीटर की ऊंचाई पर लगाना होगा. इस पालिसी से घर की छत आराम से इस्तेमाल हो सकेगी और कंपनी सोलर पैनल से बिजली उत्पादित भी कर सकेगा.

दिल्ली सरकार का लक्ष्य दिल्ली को पूरी तरह से सोलर शहर बनाना है. दिल्ली सरकार 2020 तक 1000 मेगा वाट बिजली उत्पन करने का लक्ष्य है जिसको 2025 तक बढाकर 2000 मेगा वाट करना है. इस योजना से दिल्ली की बिजली की किल्लत को काफी हद तक कम किया जा सकता है.

=====================
नई खबर रिपोर्ट -महेन्द्र भाई पटेल